Pages

Monday, 21 March 2016

गीता जयंती अंतर्राष्ट्रीय उत्सव के लिए सरकार उपलब्ध करवाए 20 करोड़ का बजट : सुधा

फोटो समाचार
गीता जयंती अंतर्राष्ट्रीय उत्सव के लिए सरकार उपलब्ध करवाए 20 करोड़ का बजट : सुधा
थानेसर विधायक सुभाष सुधा ने कुरु
क्षेत्र के पर्यटन, धार्मिक परियोजनाओं को रखा सदन में, मोहन नगर फ्लाई ओवर से रेलवे स्टेशन की तरफ फ्लाई ओवर उतारने का रखा मुद्दा, कुरुक्षेत्र में निवेश के अवसर प्रदान करने की भी रखी मांग

कुरुक्षेत्र 18 मार्च - थानेसर विधायक सुभाष सुधा ने विधानसभा सत्र के पटल पर जहां कुरुक्षेत्र की सडक़ों, पर्यटन स्थलों, धार्मिक स्थलों, एजुकेशन हब बनाने, कुरुक्षेत्र में निवेशकों को आमंत्रित करने जैसे मुद्दों को रखा, वहीं गीता जयंती उत्सव को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाने के लिए कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड को अतिरिक्त 20 करोड़ रुपए का बजट मुहैया करवाने की बात को रखा है।
थानेसर विधायक सुभाष सुधा ने वीरवार को विधानसभा सत्र में हल्कावासियों की आवाज को बुलंद करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने इस वर्ष एक नवम्बर से हरियाणा की स्वर्ण जयंती बड़े पैमाने पर मनाने की योजना बनाई है। सरकार ने राज्य में विकास की लहर हर क्षेत्र व हर नागरिक तक पहुंचाने की योजना बनाई, जिसमें सबका साथ सबका विकास का नारा सार्थक होता हुआ नजर आ रहा है। हर जिले में महिला थाने, महिला कालेज बनाने का निर्णय लिया, गांवों में पंच, सरपंच, जिला परिषद सदस्य व ब्लाक समिति सदस्य पढ़े लिखे बने। इतना ही नहीं, आदर्श ग्राम योजना के तहत गांवों को गोद लेकर विकास करने की योजना को अमलीजामा पहनाने का काम किया। 
उन्होंने सदन में अभी हाल ही में असामाजिक तत्वों द्वारा कई व्यापारियों के व्यवसाय को नष्ट करने का काम किया। कई व्यापारी अब अपना व्यवसाय दोबारा करने में भी समर्थ नहीं है। इसलिए सरकार को ऐसे व्यापारियों को सरकारी नौकरी उपलब्ध करवानी चाहिए और प्रदेश में भाईचारे की भावना कायम रखने का सबको प्रयास करना चाहिए। विधायक ने कहा कि सरकार ने सरस्वती नदी के जीर्णोद्धार व सरंक्षण के लिए हरियाणा सरस्वती धरोहर विकास बोर्ड का गठन किया और इस वर्ष गीता जयंती को प्रदेश के प्रत्येक जिलास्तर पर मनाया गया। इस समारोह ने पिछले 36 वर्षों का रिकार्ड तोड़ा। उन्होंने कुरुक्षेत्र के थानेसर हल्के के लोगों की मांगों को रखते हुए कहा कि सरकार ने मुख्य सडक़ों व गांवों की सडक़ों की मुरम्मत करने के लिए 1560 करोड़ रुपए का बजट मुहैया करवाया है। इसके बावजूद कुुरुक्षेत्र की धार्मिक और ऐतिहासिक महतता को देखते हुए और लगातार पनप रही यातायात की समस्या के समाधान के लिए थानेसर में लगभग 15 किलोमीटर लम्बा बाईपास बनाने की आवश्यकता है। 
विधायक ने मोहन नगर से थानेसर शहर की तरफ फ्लाई ओवर की बाईं तरफ रेलवे स्टेशन की तरफ एक लेग एक्सटेंशन बनाने, शहर की मुख्य सडक़ पिपली से ज्योतिसर तक का नवीनीकरण व चौड़ा करने, गीता जयंती को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाने के लिए 20 करोड़ रुपए का बजट, कुरुक्षेत्र के प्रचार-प्रसार के लिए एफएम रेडियो व टीवी द्वारा प्रमोशन करने, कुरुक्षेत्र भ्रमण के लिए मिनी बस चलाने, शहर के अंदर स्टील बेस्ड बस शैल्टर बनाने, शहर में दोनो बस स्टैंड का नवीनीकरण करने, कुरुक्षेत्र पर्यटन की दृष्टि से स्पैशल वोल्वो बस की शुरूआत दिल्ली से कुरुक्षेत्र व कुरुक्षेत्र से चंडीगढ़ की जाए, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के यूनिवर्सिटी कालेज को विभाग का दर्जा देने, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट जैसी अनेक मांगों को सदन के समक्ष रखा। 
बॉक्स
कुरुक्षेत्र में इंटरनेशनल साईकलिंग स्टेडियम की जरुरत
विधायक सुभाष सुधा ने विधानसभा के समक्ष कुरुक्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का साईकलिंग स्टेडियम को बनाने की मांग को रखते हुए कहा कि हॉकी खिलाडिय़ों के लिए कुरुक्षेत्र में नया एस्ट्रोट्रफ भी लगाया जाना जरूरी है। 
बॉक्स
कुरुक्षेत्र में निवेशकों को किया जाए आमंत्रित
विधायक ने कहा कि 7 व 8 मार्च को गुडग़ांव में हैपनिंग हरियाणा ग्लोबल इन्वेस्टर मीट में विदेशी व भारतीय निवेशकों ने भाग लिया और करीब 6 लाख करोड़ का निवेश करने के समझौते हुए। उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि कुरुक्षेत्र निवेश की दृष्टि से पिछड़ा हुआ जिल है। इसलिए यहां पर बड़े पैमाने पर निवेशके अवसर प्रदान किए जााने चाहिए।

फोटो समाचार
जाट आरक्षण को लेकर प्रशासन ने चौकस किया पुलिस व अधिकारियों को
आम लोगों की जान-माल की सुरक्षा व शांति बनाए रखना प्रशासन का लक्ष्य, विभागीय अधिकारी सरकारी सम्पत्ति का रखें ध्यान, जिलाधीश ने नियुक्त किए 9 डयूटी मैजिस्ट्रेट

कुरुक्षेत्र 18 मार्च -  उपायुक्त सीजी रजिनिकांतन ने जाट आरक्षण आंदोलन के दोबारा होने की संभावना को ध्यान में रखते हुए पुलिस प्रशासन और तमाम अधिकारियों को मुस्तैद रहने के आदेश दिए हैं। इतना ही नहीं, 9 अधिकारियों को डयूटी मैजिस्ट्रेट भी नियुक्त किया है और सभी थाना अध्यक्षों व चौंकी इंचार्ज को डयूटी मैजिस्ट्रेट के साथ तालमेल कर शांति व सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश भी दिए हैं। इन आदेशों की लापरवाही करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। 
उपायुक्त सीजी रजिनिकांतन लघु सचिवालय में जाट आरक्षण के मामले को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के प्रबंधों की समीक्षा को लेकर अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों से स्थिति नियंत्रण बारे विचार विमर्श करते हुए कहा कि जिला कुरुक्षेत्र में स्थिति अभी तक सामान्य है। लेकिन गुप्तचर एजेंसियों से मिली रिपोर्ट के आधार पर होली के पर्व पर असामाजिक तत्वों द्वारा दंगा-फसाद फैलाने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। इसलिए सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जाने चाहिए। उन्होंने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार और पुलिस अधीक्षक को विश्वविद्यालय में लड़कियों व लडक़ों के छात्रावास की सुरक्षा व बाहरी हस्तक्षेप रोकने के निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी अंवाछनीय घटना की रिपोर्ट तुरंत प्रशासन को दी जाए। प्रशासनिक अधिकारियों से अर्धसैनिक बलों की नियुक्ति के लिए विचार-विमर्श किया गया ताकि जान-माल की सुरक्षा, शांति व्यवस्था व आम लोगों में विश्वास बनाया रखा जा सके। 
उपायुक्त ने राजस्व व पंचायत अधिकारियों को निर्देश दिए कि जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी पटवारी, ग्राम सचिव अपने-अपने क्षेत्र में सर्तकता बनाए रखेंगे और किसी भी अप्रिय घटना की सूचना पुलिस प्रशासन व पुलिस कंट्रोल रूम में देना सुनिश्चित करेेंगे। हरियाणा रोडवेज कुरुक्षेत्र के महाप्रबंधक सभी बस अड्डों व वर्कशाप में सुरक्षा के प्रबंध करेंगे। फायर बिग्रेड, एम्बुलेंस व आवश्यक सेवाओं के लिए हाई अलर्ट के आदेश दिए गए हैं। सिविल सर्जन इंडियन मेडीकल ऐसोसिएशन से मेडीकल सेवाओं के सम्बंध में सम्पर्क बनाए रखेंगे। सभी विभागाध्यक्ष अपने अधीनस्थ कार्यालयों व सम्पत्ति की सुरक्षा के लिए स्वयं जिम्मेवार होंगे। जन स्वास्थ्य विभाग, बिजली विभाग व कार्यकारी अभियंता पीडब्ल्यूडी बी एंड आर अपने अपने स्तर पर तमाम व्यवस्था बनाए रखेंगे। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक सिमरदीप सिंह, एसडीएम सतबीर कुंडु व अन्य अधिकारी मौजूद थे।
बॉक्स
किन-किन अधिकारियों को नियुक्त किया डयूटी मैजिस्ट्रेट
जिलाधीश सीजी रजिनिकांतन ने जाट नेताओं द्वारा 72 घंटे के अल्टीमेटम की समयावधि समाप्त होने के बाद जिला में असामाजिक तत्वों द्वारा कानून व्यवस्था को बिगाडऩे की संभावना को ध्यान में रखते हुए जिले में शांति व्यवस्था व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए बीडीपीओ इस्माईलाबाद विकास, नायब तहसीलदार इस्माईलाबाद हवा सिंह पुनिया, तहसीलदार पिहोवा अनिल कुमार, बीडीपीओ लाडवा अंग्रेज सिंह, नायब तहसीलदार बाबैन साहिब सिह, बीडीपीओ शाहाबाद संदीप शर्मा, तहसीलदार शाहाबाद जोगिंद्र सिंह, नायब तहसीलदार लाडवा प्रेमचंद व उप-मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद ओम प्रकाश को डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। 

राज्यस्तरीय बाढ़ बचाव प्रशिक्षण शिविर 4 अप्रैल से 
कुरुक्षेत्र 18 मार्च - हरियाणा राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की तरफ से ब्रहमसरोवर पर 4 अप्रैल से 9 अप्रैल तक राज्यस्तरीय बाढ़ बचाव प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है। उपायुक्त सीजी रजिनिकांतन ने बताया कि हरियाणा राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग चंडीगढ़ के वित्तायुक्त एवं प्रधान सचिव के आदेशानुसार पूर्व वर्षों की भांति इस वर्ष भी बाढ़ बचाव प्रशिक्षण शिविर का आयोजन 4 अप्रैल से 9 अप्रैल 2016 तक ब्रहमसरोवर पर किया जा रहा है। इस शिविर के लिए राजस्व विभाग के अधिकारी सभी तैयारियां पूरी करेंगे।

जिलास्तरीय किसान मेला व प्रदर्शनी का राज्यमंत्री कृष्ण बेदी 20 मार्च को करेंंगे उदघाटन
कुरुक्षेत्र 18 मार्च - कृषि विभाग की तरफ से आतमा व फसल विविधिकरण स्कीम के अंतर्गत 20 मार्च को पाल प्लाजा में सुबह 10 बजे किसान मेला और प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। इस किसान मेले का उदघाटन प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण बेदी करेंगे और इस कार्यक्रम की अध्यक्षता थानेसर विधायक सुभाष सुधा करेंगे। 
यह जानकारी देते हुए कृषि विभाग के उपनिदेशक डा. वजीर सिंह ने कहा कि मेला क्षेत्र में विभिन्न विभागों, कृषि मशीनीकरण, बीज एवं दवाईयों की निर्माता कम्पनियों की तरफ से प्रदर्शनी लगाई जाएगी। प्रदर्शनी के लिए पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर निशुल्क स्थान उपलब्ध करवाया जाएगा। इसके अलावा प्रदर्शनी में पहुंचने वाले करीब दो हजार किसानों को आमदनी बढ़ाने, पशुधन, बागवानी एवं अन्य गतिविधियों के बारे में जानकारी दी जाएगी।

कुरुक्षेत्र के राष्ट्रीय स्तर के 225 पदक विजेता खिलाडिय़ों को किया जाएगा सम्मानित
कुरुक्षेत्र 18 मार्च - खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग हरियाणा के निदेशानुसार वर्ष 2013-14 व 2014-15  से सम्बंधित जिला कुरुक्षेत्र के राष्ट्रीय स्तर के पदक विजेता खिलाडिय़ों को 23 मार्च को ताऊ देवीलाल स्टेडियम गुडग़ांव में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा सम्मानित किया जाएगा। 
जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी वीरेंद्र सिंह ने बताया कि खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग हरियाणा द्वारा निर्णय लिया गया है कि 2013-14 व 2014-15 के राष्ट्रीय स्तर पर विजेता खिलाडिय़ों को मुख्यमंत्री द्वारा ताऊ देवीलाल स्टेडियम गुडग़ांव में सम्मानित किया जाएगा। इस सम्मान समारोह में कुरुक्षेत्र जिले के 225 पदक विजेता खिलाडिय़ों को सम्मानित किया जाना है। इस सम्मान समारोह में 21 मार्च को सायं 4 बजे 138 पदक विजेता खिलाडिय़ों को महामहिम राज्यपाल द्वारा व 87 पदक विजेता खिलाडिय़ों को 23 मार्च को सायं 4 बजे 87 खिलाडिय़ों को मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा सम्मानित किया जाएगा। 
उन्होंने बताया कि इस समारोह में भाग लेने के लिए 21 मार्च को सम्मानित होने वाले खिलाडिय़ों को प्रात: 8.30 बजे व 23 मार्च को सम्मानित होने वाले खिलाडिय़ों को प्रात: 8.30 बजे द्रोणाचार्य स्टेडियम कुरुक्षेत्र में पहुंचना होगा। इन खिलाडिय़ों के लिए विभाग द्वारा कुरुक्षेत्र से गुडग़ांव ले जाने व वापिस गुडग़ांव से कुरुक्षेत्र तक लाने की व्यवस्था भी की गई है। 


फोटो समाचार
चैत्र चौदस मेले में आने वाले हर श्रद्धालू की सुरक्षा व्यवस्था का रखा जाएगा विशेष ध्यान : रजिनिकांतन
चैत्र चौदस मेले में लगेगी सरकारी विभागों की तरफ से प्रदर्शनी, भिखारियों के लिए किया जाएगा अलग स्थान निर्धारित, समाजसेवी संस्थाओं व पुराहितों को पहली बार जारी किए जाएंगे पहचान पत्र, मेले की पल-पल की गतिविधियों पर रखेंगे 25 सीसी कैमरे नजर, मेले से पहले और बाद में स्वास्थ्य विभाग करेगा फोगिंग
पिहोवा 18 मार्च - उपायुक्त सीजी रजिनिकांतन ने कहा कि विश्व प्रसिद्ध चैत्र चौदस मेले में देश व प्रदेश के कोने-कोने से आने वाले लाखों श्रद्धालुओं के लिए सुरक्षा और व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। इस मेले में तमाम विभागों की तरफ से उपलब्धियों और योजनाओं को लेकर प्रदर्शनी लगाई जाएगी। सुरक्षा एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए जहां भिखारियों के लिए एक अलग स्थल निर्धारित किया जाएगा, वहीं राज पुरोहितों व समाजसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को पहचान पत्र भी जारी किए जाएंगे। सरस्वती तीर्थ पर किसी भी भिखारी को भीख मांगने की इजाजत नहीं दी जाएगी। इतना ही नहीं, सरस्वती तीर्थ के सामने बाजार लगाने पर भी पाबंदी रहेगी।  
उपायुक्त शुक्रवार को किसान विश्रामगृह में 5 से 7 अप्रैल तक सरस्वती तीर्थ पर लगने वाले चैत्र चौदस मेले को लेकर अधिकारियों की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मेले में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। मेले के हर क्षेत्र की पल पल पर निगरानी रखने के लिए 25 सी.सी. कैमरे लगाए जाएंगे। जहां मेले को 8 सैक्टरों में विभाजित किया जाएगा, वहीं शहर के हर प्रवेश द्वार पर पुलिस की नाकाबंदी कर कड़ी निगरानी रखी जाएगी। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं के लिए पीने के पानी की  उचित व्यवस्था और शौचालयों की व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को सरस्वती तीर्थ में स्वच्छ जल भरने के आदेश भी दिए है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मेले से पहले और मेले के बाद में फोगिंग करवाना सुनिश्चित करेंगे। नगरपालिका के अधिकारी मेले से पहले और मेले के सात दिन बाद तक सफाई कर्मचारियों से सफाई व्यवस्था दुरुस्त करवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि शहर के मुख्य सडक़ से अतिक्रमण हटाने ओर क्षेत्र में अवैध शराब की ब्रिकी बंद करवाने के लिए पुलिस को विशेष आदेश दिए हैं। उन्होंने मेले के दौरान बिजली की निंरतर सप्लाई के इंतजाम करने के लिए बिजली विभाग के अधिकारियों को आदेश दिए हैं। इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त प्रभजोत सिंह, मेला प्रशासक एवं एसडीएम शाहाबाद हवा सिंह, डीएसपी चंद्रपाल, जिला पंचायत विकास अधिकारी कपिल शर्मा, जिला राजस्व अधिकारी अशोक मलिक, नगरपालिका सचिव निर्मल प्रकाश, तहसीलदार पिहोवा अनिल कुमार सहित समाजसेवी युधिष्ठिर बहल, रामधारी शर्मा व सचिन मित्तल सहित सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित थे।
बाक्स
गोताखोरों के नाम और मोबाइल नम्बर किए जाएंगे अंकित
सरस्वती तीर्थ में किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए गोताखोरों की नियुक्ति की जाएगी। गोताखोरों को जैकेट मुहैया करवाई जाएगी और अलग काऊंटर भी दिया जाएगा। इस काऊंटर पर गोताखोरों के नाम व मोबाइल नम्बर अंकित किए जाएंगे। हालांकि गोताखोर 24 घंटे काऊंटर पर तैनात रहेंगे। मेले के दौरान आग आदि आपातकालीन स्थिति से निटापने के लिए फायर ब्रिगेड की 5 गाडिय़ों की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा सरस्वती घाट के दोनों तरफ गहरे पानी से बचाव करने के लिए 2 किश्तियां, लाइफ जैकेट व चप्पू का प्रबंध किया जाएगा। इसके अलावा सरस्वती तट पर चेतावनी सूचना पट भी लगाए जाएंगे। 
बॉक्स
8 फस्र्ट एड पोस्ट व 5 एंबुलैंस करेगी सेवा 
स्वास्थ्य विभाग की तरफ से किसी भी अप्रिया घटना से निपटने ओर अचानक बीमार यात्रियों को स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाने के लिए 8 फस्र्ट एड पोस्ट, 2 आयुर्वेदिक पोस्ट, 5 एंबुलैंस का प्रबंध किया जाएगा। मेले से पहले पूरे शहर में दवाईयों का छिडक़ाव भी किया जाएगा। 
बॉक्स
600 पुलिस कर्मचारी रखेंगे सुरक्षा व्यवस्था पर नजर 
चैत्र चौदस मेले में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करने के लिए करीब 600 पुलिस जवान, होम गार्ड तैनात रहेंगे। इनमें 100 महिला पुलिस कर्मचारियों की भी नियुक्ति की जाएगी। मेला क्षेत्र के 8 सैक्टरों में डयूटी मैजिस्टे्रट व सैक्टर अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। विभिन्न दिशाओं में 5 पुलिस चैक पोस्ट भी लगाए जाएंगे। 
बॉक्स
मेला ग्राऊंड में बनेगा मनोरंजन स्थल    
गुहला रोड पर हुड्डा की खाली जमीन पर मेला ग्राऊंड बनाया गया है। इस ग्रांऊड में ही सर्कस, झूला व अन्य स्टाल लगाने की व्यवस्था की गई है ताकि लोग एक ही स्थान पर मनोरंजन के साधनों का फायदा उठा सके। इस स्थल पर पुलिस व्यवस्था के भी पुख्ता इंतजाम रहेंगे। 
बॉक्स
100 अतिरिक्त सफाई क र्मचारियों की लगेगी डयूटी 
शहर में सफाई व्यवस्था का पूर्ण प्रबंध नगर पालिका द्वारा किया जाएगा। मेला को लेकर सफाई व्यवस्था को दुरूस्त रखने के लिए 100 अतिरिक्त सफाई कर्मचारी नियुक्त किए जाएंगे। इसके अलावा स्थाई कर्मचारी भी अपनी डयूटी का निर्वाह करेंगे। 
बॉक्स
5 जगहों पर बनेंगे पार्किंग स्थल
उपायुक्त ने कहा कि कैथल रोड, अम्बाला रोड, गुलडेरा, पटियाला रोड व कुरुक्षेत्र रोड पर पार्किंग स्थल बनाए जाएंगे। पार्किंग का टैंडर दिया जाएगा। ठेकेदारों को हिदायत दी जाएगी कि केवल उन्हीं वाहनों से पार्किंग शुल्क वसूल किया जाए जो केवल पार्किंग स्थल पर ही खडे होंगे। सडक़ पर आने-जाने वालों से पार्किंग शुल्क नहीं वसूल किया जाएगा और न ही उनको परेशान किया जाएगा। 
बॉक्स
विभागों की प्रदर्शनी रहेगी आकर्षण का केंद्र
उपायुक्त  ने कहा कि इस बार मेले में पहली बार महिला एवं बाल विकास विभाग की तरफ से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, केडीबी, श्रीकृष्ण संग्रहालय, कृषि विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों की तरफ से प्रदर्शनियां भी लगाई जाएंगी।

फोटो समाचार
पिहोवा 18 मार्च - बेटियां कल की माँए हैं, मिले मुश्किल से माँ, इतनी कम न हों बेटियां। कुछ इस तरह का दर्द महिला एवं बाल विकास विभाग की कार्यक्रम अधिकारी गुरविंद्र कौर मल्ली के मुख से उभरा, जब पंच, सरपंचों एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रही थी। आज बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के खंड स्तरीय कार्यक्रम में पिहोवा के खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी सभागार में यह कार्यक्रम आयोजित हुआ। 
उन्होंने आहवान किया कि क्षेत्र की जनता बेटियों को जीने का अधिकार एवं लालन-पालन तथा पूरा प्यार दें क्येांकि बेटियां हीरे से कम अनमोल नहीं होतीं।  22 जनवरी 2015 से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, आपकी बेटी हमारी बेटी एवं कन्या समृद्धि योजना की एक साथ शुरूआत हुई, जिससे सरकार ने यह साफ संकेत दे दिया है कि अब कन्या को जन्म से लेकर पढ़ाई एवं उसकी शादी तक हर प्रकार का आर्थिक सहयोग सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। उन्होंने यह भी याद दिलाया कि लाडलियों के मान-सम्मान को बढ़ाने के लिए स्कूलों में मेरा लक्ष्य मेरा उद्देश्य जैसी स्कीम शुरू की गई है। गणतंत्र दिवस एवं स्वतंत्रता दिवस जैसे समारोह में गांव की सबसे पढ़ी लिखी लडक़ी झंडा फहराएगी आदि अनेक योजनाएं कन्या के हित के लिए शुरू की गई हैं। 
उन्होंने कहा कि हालांकि जो भी कल्याणकारी योजनाएं सरकार द्वारा बनाई जाती हैं, उन्हें धरातल पर लाने के लिए आम जनता का सहयोग आपेक्षित है। प्रदेश सरकार द्वारा पंचायत के प्रतिनिधियों को शिक्षित होना जरूरी कर यह साफ संदेश दे दिया है कि भविष्य में अंगूठा टेक व्यक्ति मिलता बहुत दूर की बात होगी। इस अवसर पर पशुपालन विभाग के एसडीओ जय नारायण शर्मा, जिला मत्स्य अधिकारी ईश्वर सिंह, समाज कल्याण विभाग से वीरेंद्र सिंह, कृषि विभाग से नरेश कुमार, सीडीपीओ नीतू ने भी अपने विचार रखे। अंत में जिला विकास एवं पचंायत अधिकारी कपिल शर्मा ने भी आए हुए प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर उन्हें धन्यवाद दिया। इस मौके पर राजा अजीत सिंह मेमोरियल ट्रस्ट के प्रतिनिधि सरदार लखविंद्र सिंह ग्रेवाल ने भी प्रतिनिधियों को सम्बोधित किया।

No comments:

Post a Comment